कार की टक्कर से बाइक सवार की मौत, धुंवाला के निकट हुआ हादसा

माण्डल।

धुंवाला के निकट कार की टक्कर से मंगलवार को मोटरसाइकिल सवार की मौत हो गई। माण्डल थाना पुलिस ने पोस्टमार्टम करवा कर शव परिजनों के सुपुर्द किया। कार चालक के खिलाफ दुर्घटना का मामला दर्ज किया गया है।

 

पुलिस के अनुसार ब्रह्मपुरी (आसींद) निवासी लहरूलाल गाडरी (23) बाइक से माण्डल से आसींद जा रहा था। धुंवाला के निकट सामने से आ रही कार से टक्कर हो गई। दुर्घटना में गम्भीर रूप से घायल लहरू को एम्बुलेंस की मदद से माण्डल अस्पताल लाया गया। हालत नाजुक होने से भीलवाड़ा रैफर कर दिया। उसने महात्मा गांधी अस्पताल में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। दुर्घटना में कार और बाइक क्षतिग्रस्त हो गई। वहीं दुर्घटना के बाद कार ईट भट्टे के बाड़े में घुस गई।

 

 

रामद्वारा में चोरी के आरोपियों को जेल भेजा

भीलवाड़ा भीमगंज थाना पुलिस ने रामद्वारा में दानपात्र तोड़कर नकदी चुराने के आरोप में गिरफ्तार दो जनों को न्यायाधीश के समक्ष पेश किया। जहां से तिलकनगर निवासी जुगलकिशोर कोली व माताजी का खेड़ा बनेड़ा निवासी तुलसीराम माली को जेल भेज दिया। मालूम हो, गत 22 जुलाई को रामद्वारा मंदिर में घुसकर चोर दानपात्र तोड़कर उसमें से नकदी चुरा ले गए। पुलिस ने अनुसंधान के बाद दोनों को गिरफ्तार किया। दोनों नशे की आदी है।

 

जहरीले जंतु के काटने से बालक की मौत

फूलियाकलां।
उपखंड क्षेत्र के धनोप ग्राम पंचायत के अधीन उमा का खेड़ा में मंगलवार दोपहर एक बच्चे को जहरीला जानवर के काटने से उसकी मृत्यु हो गई। जानकारी के अनुसार ग्राम उमा चौहान का खेड़ा स्थित राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय में मंगलवार को 15 अगस्त की तैयारी के दौरान शिक्षकों ने छात्र-छात्राओं द्वारा खेल मैदान में उगी हुई कटीली झाड़ियों को हटा कर साफ- सफाई कराई जा रही थी। इस दौरान चौथी कक्षा के छात्र सिंटू पुत्र शिवराज गुर्जर (8 वर्ष) को जहरीले जानवर ने काट लिया। उस समय चिंटू को हल्का सा आभास हुआ कि शायद चूहे ने हाथ की उंगली को काट होगा। स्कूल छुट्टी के बाद घर पर आकर कटी हुई उंगली पर सिंटू ने टूथपेस्ट लगाकर पट्टी बांध ली। और खाना खाकर सो गया। परिजनों में से वहीं पर खेल रहे दो छोटे भाइयों की सोए हुए बड़े भाई चिंटू के चेहरे पर नजर पड़ी तो मुंह में झाग दिखाई दिए। परिजन हॉस्पिटल लेकर दौड़े। सांगरिया सामुदायिक हॉस्पिटल में डॉक्टर की अनुपस्थिति में परिजन कोठियां प्राथमिक चिकित्सालय ले गए। जहां से गुलाबपुरा रैफर कर दिया गया। सिंटू ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। परिजन गुलाबपुरा के आधे रास्ते से वापस गांव लेकर आ गए। जहां परिजनों ने मृतक चिंटू का दाह संस्कार कर दिया।