कहां २२ कट्टों में दबा दबाकर भरा था डोडा-चूरा

चित्तौडग़ढ़. जिले के निकुंभ क्षेत्र में चित्तौड़ पुलिस अधीक्षक अनील कयाल के निर्देशन में चलाए जा रहे अवैध मादक पदार्थों की तस्करी की रोकथाम व धरपकड़ अभियान के तहत शनिवार को पुलिस ने एक कार से ३४९ डोडा-चूरा बरामद किया। पुलिस ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर सालका खेड़ा जंगल में संदिग्ध अवस्था में एमपी पासिंग एक कार खड़ी थी। सूचना पर निकुंभ थाना प्रभारी प्रभु दयाल, सहायक उपनिरीक्षक लालचंद पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और कार की तलाशी ली। कार में कोई व्यक्ति नहीं था। एमपी पासिंग कार के कांच काले रंग के होने से अंदर कुछ नहीं दिखाई दे रहा था गाव के मौतबिरों को बुलाकर कार की तलाशी ली गई। इसमें सफेद रंग के २२ कट्टे को खोला तो उसमें डोडा चूरा पाया गया। इनका वजन कराने पर 349 किलो 260 ग्राम पाया गया पुलिस ने कार व डोडा चूरा जब्त कर एनडीपीएस एक्ट में प्रकरण दर्ज किया। मामले की जांच भदेसर थाना प्रभारी सुरेश विश्नोई को सौंपी गई।
कार में डोडा चूरा ले जाते तीन गिरफ्तार
निकुंभ. थाना पुलिस ने कार में ले जाया जा रहा तीस किलो डोडा चूरा जब्त कर तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जानकारी के अनुसार चित्तौडग़ढ़ में शनिवार को सुबह हुई डकैती की वारदात के बाद जिले भर में नाकाबंदी करवाई गई थी। निकुंभ थाना पुलिस भी मालनखेड़ी के पास नाकाबंदी कर रही थी। नाकाबंदी के दौरान निकुंभ रोड़ पर एक कार आती दिखाई दी, जिसको थाना प्रभारी प्रभुदयाल, एसआई लालचंद आदि ने रूकवाकर तलाशी ली तो कार की डिक्की में प्लास्टिक का कट्टा रखा हुआ मिला। जांच करने पर उसमें डोडा चूरा भरा हुआ पाया गया, जिसका तोल करवाने पर तीस किलो हुआ। पुलिस ने मय कार डोडा चूरा जब्त कर कार में सवार लकड़वास प्रताप नगर उदयपुर निवासी मोहनलाल पुत्र माना डांगी, रामलाल पुत्र उदय लाल डांगी व मुहाना थाना सुखेर उदयपुर निवासी मोहनलाल पुत्र नारायण डांगी को गिरफ्तार कर लिया। तीनों के खिलाफ एनडीपीएस अधिनियम में प्रकरण दर्ज किया गया है।