कलक्टर ने किया निरीक्षण, महाराणा प्रताप राजतिलक स्थली की दुर्दशा पर लगाई फटकार

गोगुंदा. जिला कलक्टर आनंदी ने शुक्रवार को गोगुंदा व सायरा क्षेत्र के सरकारी कार्यालयों का निरीक्षण कर अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। राजतिलक स्थल की दुर्दशा को लेकर कलक्टर ने गंभीर होते हुए पर्यटन विभाग व स्थानीय प्रशासन को इसके समुचित रखरखाव पर ध्यान देने के निदेश दिए। हालांकि कलक्टर के दौरे की पूर्व में सूचना से सभी विभाग मुस्तैद दिखाई दिए। कलक्टर सुबह चोरबावड़ी ग्राम पंचायत के आंगनबाड़ी केन्द्र पहुंची और कार्यकर्ताओं से जानकारी ली। निमार्णधीन कृषि मंडी का निरीक्षण कर वन उपज, तहसील कार्यालय के निरीक्षण के दौरान सरकारी योजनाओं की प्रगति की जानकारी लेकर निर्देश दिए। तहसील कार्यालय में घूमन्तु जाति के गाडोलिया लोहारों ने वर्षों से काबिज होने के बावजूद उनके परिवार के सदस्यों को पट्टे नहीं मिलने की शिकायत की। कलक्टर ने जमीन की उपलब्धता देख निर्णय लेने की बात कही। जसंवतगढ़ सरपंच नारायण पालीवाल व मोड़ी सरपंच ने क्षेत्र में पेयजल समस्या बताई। इसके बाद वे राजतिलक स्थली पहुंची व पर्यटन विभाग की ओर से पूर्व में बनाए गए ऑटोडोरियम, म्यूजियम आदि का निरीक्षण किया।

 

READ MORE : राष्ट्रीय युवा दिवस विशेष : हजार दीयों पर भारी इनके हौसलों की चिंगारी, जानें पूरी कहानी

 

इनकी जीर्ण शीर्ण हालत व व परिसर की दुर्दशा को लेकर पर्यटन विभाग के अधिकारियों को शीघ्र मरम्मत कराने के निर्देश दिए। स्थानीय अधिकारियों व पंचायत की मदद से नरेगा कार्यों में प्राचीन बावड़ी की सफाई व अन्य छोटे-मोटे कार्य कराने को कहा। इसके बाद कलक्टर सायरा पहुंची व उपतहसील व पंचायत समिति भवन का निरीक्षण किया। एसडीओ राजकुमार , तहसीलदार विमलेन्द्र सिंह राणावत, विकास अधिकारी दलीपसिंह यादव, थानाधिकारी भरत योगी मौजूद थे।