ओगणा में झोलाछाप का क्लिनिक सीज

मदनसिंह राणावत व मुकेश पुरोहित. झाड़ोल . उपखण्ड अधिकारी प्रशिक्षु आईएएस डॉ. टी. शुभमंगला ने बुधवार को ओगणा कस्बे में झोलाछाप का क्लिनिक सीज किया। वे दोपहर करीब दो बजे ओगणा पहुंची, जहां सेवानिवृत्त आयुर्वेदिक कम्पाउडर सुन्दरलाल जावरिया अपने ही घर स्थित क्लिनिक पर बैठा मिला। उपखण्ड अधिकारी ने क्लिनिक पर जांच की तो आयुर्वेदिक दवाइयां मिली। अलमारी में ताले बंद होम्योपैथिक दवाइयां भी मिली।
उपखण्ड अधिकारी ने चिकित्सा अधिकारी ओगणा फैज मूल हक काजी एवं पुलिस थाना ओगणा को सूचना दी। थाना अधिकारी मुकेश कुमार ने मय जाप्ते पहुंच कर क्लिनिक को सीज किया। ड्रग अधिकारी से दवाइयों की जांच करवाई जाएगी। जावरिया की क्लिनिक पर कार्रवाई की सूचना पर अन्य छोलाछाप अपनी क्लिनिक बन्द कर दूर खड़े होकरकार्रवाई देखने पहुंच गए।


पहली बार फलासिया पहुंचा स्त्री रोग विशेषज्ञ
फलासिया . फलासिया सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र को खुले 15 वर्ष से ज्यादा समय हो गया है लेकिन आदिवासी बहुल क्षेत्र के इस केन्द्र पर शुरू से चिकित्सकों की कमी रही है। सरकार अब तक विशेषज्ञ चिकित्सकों की नियुक्ति नहीं कर पाई है। मगर झाड़ोल एसडीएम टी. शुभ मंगला के प्रयासों से फलासिया सीएचसी पर पहली बार कैम्प के बहाने ही सही परन्तु आरएनटी मेडिकल कॉलेज से रेजीडेन्ट डॉक्टर रोशन दंरागी ने गर्भवतियों की प्रसव पूर्व जांच की।


एसडीएम ने की गर्भवतियों की जांच
इधर, झाड़ोल एसडीएम शुभ मंगला बुधवार को अचानक कोल्यारी पीएचसी पहुंची तो चिकित्सक व स्टाफ अलर्ट हो गय था। पहले जब भी कोई एसडीएम आता तो योजना की जांच करता, रिकॉर्ड में गलती पर लताड़ लगाता परन्तु वे सीधे चिकित्सक की कुर्सी पर बैठी और गर्भवती महिलाओं की जांच में चिकित्सक वर्दीचन्द कटारा की मदद करने लगी। एसडीएम ने 1 घंटे के गर्भवती महिलाओं के हाल पूछे एवं जांच की। पहली बार कोल्यारी में महिलाएं महिला चिकित्सक से जांच करवाकर खुशी महसूस कर रही थी।