ऐसी ही जारी रही बारिश तो इस बार खुल जाएंगे गांधीसागर के गेट


मंदसौर.
जिले में स्थित गांधीसागर बांध में लगातार जारी बारिश के चलते जलस्तर बढ़ता जा रहा है। हालांकि अभी गेट खुलने की स्थिति से पानी बहुत कम है, लेकिन वर्तमान में 1 लाख 18 हजार क्यूसेफ की गति से डेम में पानी आ रहा है और 1312 फीट के आसपास तक डेम भरने के बाद गेट खुलने की स्थिति बन जाती है। और वर्तमान में 12.75.28 फीट गांधीसागर का जलस्तर हो चुका है। ऐसे में तेज गति से बढ़ रहे गांधीसागर के जलस्तर से इस बार गेट खुलने की संभावना जताई जा रही है। पिछले साल एक बार भी गेट खुलने की स्थिति नहीं बनी थी। गांधीसागर में बढ़ते जलस्तर और फैली हरियाली के बीच यहां बढ़ी संख्या में पर्यटन सैर-सपाटें के लिए पहुंचे रहे है, लेकिन गेट खुलने पर हजारों लोग देखने पहुंचते है।


बाईक सहित युवक पानी के चलते गिरा, लोगों ने बचाया, पानी के तेज बहाव में बाईक ढूंढते रहे ग्रामीण
लगातार बारिश के बीच सोमली नदी भी उफान पर रही। इसके चलते पुलिया के ऊपर दिनभर पानी बहता रहा। पानी के बहाव के बीच जान जोखिम में डाल दिनभर वाहन चालक व स्कूली विद्यार्थियों के साथ ग्रामीण बहाव में जानजोखिम में डाल गुजरते रहे। लेकिन इन्हें रोकने-टोकने वाला कोई नहीं था। एक बाईक सवार बाईक सहित पानी के बहाव में बह गया, हालंाकि ग्रामीणों ने युवक को बचा लिया और निकाल लिया। वहीं बाईक बह गई तो नदी के तेज बहाव में ग्रामीण नदी में बाईक ढूंढते रहे। कुछ दिन पहले भी रात में करजू का युवक नदी में बाईक सहित बह गया था। इसमें युवक बबूल के पेड़ के सहारें बच गया, लेकिन बाईक बह गई थी। छोटी पुलिया होने के कारण यहां पानी पुलिया पर अधिक रहता है।

सेमलियाहीरा-दलोदा मार्ग बुधवार को दिनभर बंद रहा। और ग्रामीणों को परेशान होना पड़ा। स्कूली छात्राएं भी घर जाने के लिए पुलिया के दूसरी और पुलिया पर पानी होने के कारण खड़ी रही। दोपहर १ बजे से मार्ग बंद रहा। यहां न तो कोई पुलिस का जवान और न हीं कोई चौकीदार इन्हें टोकने के लिए मौजूद था। गांव गुलियाना के प्रभुलाल माली बाईक से पुलिया पार करते समय संतुलन बिगड़ा और बाईक सहित पानी के प्रभाव में आकर गिर गए। वहां मौजूद लोगों ने प्रभुलाल को समय पर बचा लिया।