उनसे पूछा कोई पैसे तो नहीं मांगता…

भुवनेश पंड्या
उदयपुर. चिकित्सा वि ााग जयपुर के अतिरिक्त निदेशक डॉ राजा चावला ने शुक्रवार सहित गत तीन दिन तक जिले के कई चिकित्सालयों का निरीक्षण किया। चावला ने गत १७ और १८ फरवरी को जो निरीक्षण किया था उन्हीं का फिर से निरीक्षण करते हुए प्रसूताओं से बातचीत की। उन्होंने अधिकांश चिकित्सालयों में निरीक्षण के दौरान निर्देश दिए कि प्रसूतओं को हर पग पर आराम मिलना चाहिए। उन्होंने प्रसूताओं से पूछा कि कोई पैसे तो नहीं मांगता है, बाहर की जांच तो नहीं लि ा रहा है।

----

किया निरीक्षण


चावला शुक्रवार सुबह ठीक नौ बजे चांदपोल स्थित हॉस्पिटल पहुंचे, यहां कुछ को छोड़ ज्यादातर स्टाफ मौजूद था। इसमें प्रसव कम होने के लिए अधीक्षक डॉ राहुल जैन, यूनिट प्र ाारी डॉ सुशीला ाोइवाल और पीएमओ डॉ स पत कोठारी से पूछा कि प्रसव कम क्यों हो रहे हैं, तो डॉ ाोईवाल ने पांच अन्रू महिला चिकित्सक लगाने की मांग की, जबकि वर्तमान में यहां ५ स्त्री रोग विशेषज्ञ कार्यरत हैं। उन्होंने झाड़ोल, मादड़ी और ओगणा और गोगुन्दा का दौरा किया। इससे पहले पिछले दो दिनों में पलानाकला पीएचसी में लेबर रूम की जगह कम बताते हुए कहा कि लेबर रूम को नई जगह शि ट किया जाए, सीएचसी सनवाड़ में गत बार दो कमियां बताई थी, इसमें जननी शिशु सुरक्षा योजना के डिस्चार्ज टिकट ऑनलाइन नहीं कर रहे थे और कुछ असुविधाओं को ठीक करने के लिए कहा था, इसे लेकर उन्होंने शुक्रवार को प्रसूताओं से बातचीत की। उन्होंने पूछा कि कोई पैसा तो नहीं मांग रहा। सीएचसी मावली में गत बार एनटीडी इंजेक्शन उपलब्ध नहीं था, इस बार इसे उपलब्ध करवा दिया गया था। यहां स्टाफ की बैठक में स्टाफ लगाने का आग्रह किया, जिसे चुनाव के बाद लगाने का आश्वासन दिया। परसाद सीएचसी पर सुबह नौ बजे पहुंचे थे, स्टाफ मौजूद था। र्ग ावती माताओं के लिए प्रसव जांच का अलग कक्ष बनाने के निर्देश दिए। ोरवाड़ा में प्रसूताओं से बातचीत कर पूछा कि कोई पैसा तो नहीं ले रहा है, जांच बाहर से करवाने या नहीं करवाने की ाी जानकारी ली। निरीक्षण के दौरान आरसीएचओ डॉ अशोक आदित्य ाी साथ थे।