उदयपुर शहर में हल्की से मध्यम बारिश, गांवों में मूसलाधार

उदयपुर. आखिर, आषाढ़ माह जाते-जाते बारिश की आस पूरी कर गया। शुक्रवार अपरान्ह 3 से 3.30 बजे के करीब शहर में घनघोर काली घटाएं घिर आईं और बारिश शुरू हुई। शहर में कई जगह हल्की से मध्यम बरसात हुई। जबकि जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में मूसलाधार बारिश हुई। बारिश होने से मौसम सुहाना हो गया और गर्मी से लोगों को राहत मिली।

मानसून आने के बाद से ही उदयपुर में अब तक झमाझम बारिश नहीं हुई है। केवल खंड वर्षा होकर रह गई। शुक्रवार अपरान्ह 3 बजे बाद आसमान में काली घटाएं घिर आईं और मेघ गर्जना के साथ बारिश शुरू हुई, लेकिन बारिश केवल हल्की से मध्यम ही हुई। कुछ देर मध्यम बारिश होने के बाद रिमझिम का दौर शुरू हो गया।

मानसून का चौथा दौर सामान्य रहने की उम्मीद
मौसमविद प्रो. एनएस राठौैड़ के अनुसार इस बार राजस्थान, गुजरात एवं पश्चिमी तथा उत्तरी मध्यप्रदेश में अब तक औसत से कम बरसात हुई है। पिछले दो दिनों तथा शुक्रवार के उपग्रह चित्रों को विश्लेषण से कहा जा सकता है कि मानसून का चौथा दौर उदयपुर सहित मेवाड़-वागड़ मानसून का दौर शुरू हो गया है। वर्तमान में अरब सागरीय तथा बंगाल की खाड़ी का मानसून अब आगे बढ़ा है, जिससे दक्षिणी राजस्थान सहित राज्य के अधिकांश क्षेत्रों में बरसात की आशा बनी है। मानसून का चौथा दौर सामान्य रहने की उम्मीद है तथा उदयपुर मेवाड़ सहित वागड़ में अगले दो दिनों तक ऐसी हल्की बरसात होती रहेगी।