उदयपुर जिला कलक्टर ने दिए ऐसे निर्देश: अब इनकी पालना को लेकर जल्दबाजी

उदयपुर. जिला स्तरीय औ़द्योगिक समिति की बैठक शुक्रवार को जिला कलक्टर आनंदी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में हुई। एडीएम नरेश बुनकर, जिला उद्योग केन्द्र की महाप्रबंधक अरुणा शर्मा सहित रीको एवं अन्य औद्योगिक संगठनों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया। कलक्टर ने रीको को निर्देश देकर गुडली औद्योगिक क्षेत्र में नवीन औद्योगिक इकाइयों के प्रस्ताव बनाकर भिजवाने के निर्देश दिए। औद्योगिक क्षेत्रों में स्ट्रीट लाइट्स, सड़क रखरखाव, नाली सफाई व निर्माण सहित व्यवस्था सुधार के निर्देश दिए। सनवाड़ एवं कलड़वास औद्योगिक क्षेत्रों में डी.मार्किंग करने एवं ग्रेवल सड़क बनाकर औद्योगिक विस्तार के लिए भूमि उपलब्ध कराने पर भी चर्चा हुई। यूआईटी के अधिकारियों को रीको के साथ औद्योगिक क्षेत्रों का संयुक्त निरीक्षण कर ड्रेनेज सिस्टम का प्रस्ताव तैयार करने, सुखेर औद्योगिक क्षेत्र में ठेला, पान की दुकानें व अन्य अतिक्रमण हटाने को भी कहा। कलक्टर ने यूआईटी के अधिकारियों को ठोकर चैराहे पर निर्माणाधीन अंडरपास का कार्य शीघ्र पूरा करने के लिए पाबंद किया। लीड बैंक अधिकारी को 2 करोड़ तक के ऋण पर कोई भी कॉलेटर सिक्यूरिटी नहीं लेने तथा औद्योगिक इकाइयों को अधिकाधिक पौधरोपण करने के निर्देश दिए।

वृद्धा के खाते से बैंक वीसी ने निकाली राशि
गोगुंदा. सायरा पंचायत समिति के तिरोल गांव निवासी वृद्ध महिला के बैंक खाते से बैंक वीसी की ओर से 6 हजार रुपए निकालने का मामला सामने आया है। पीडि़ता ने इसकी शिकायत शुक्रवार को उपखण्ड अधिकारी को लिखित में शिकायत देकर की।
पीडि़ता वदाबाई पत्नी गोविंदसिंह ने बताया कि 27 जून को गांव स्थित मरूधरा ग्रामीण बैंक के वीसी मोहनसिंह के यहां राशि निकालने गई, जहां वीसी ने उसके फिंगर प्रिंट लिए। साथ ही खाता बंद होने की जानकारी दी। इसके बाद वह गुरुवार को डायरी लेकर बैंक शाखा गोगुंदा पहुंची । वहां डायरी इंद्राज के दौरान खाते से ६ हजार रुपए निकलने की जानकारी मिली। पीडि़ता ने आरोप लगाया कि आरोपी ने धोखे में रखकर खाते से राशि निकाली है। साथ ही संबंधित राशि वापस दिलाने की मांग की।