इस गांव में पूर्व सैनिक ने किया ऐसा नेक काम कि हर ओर हो रही इनकी तारीफ…

उमेश मेनारिया/मेनार . अमरपुरा खालसा में गुरुवार को एक खेत में श्वान के झुंड से गिरे राष्ट्रीय पक्षी मोर को मौत के मुंह से बचाया गया । श्वानोंने मोर पक्षी को नोंच कर घायल कर दिया था। जब श्वान के भोंकने की आवाज ओर मोर के उड़ने के विफल प्रयास को देख वहां खेत में अफीम लुवाई का काम कर रहे मनोहर लाल जाट ने देखा तो दौड़ पड़े । देखा तो 8 से 10 कुत्तों ने मोर को पकड़ लिया था। वे दोड़े व श्वान को पत्थर फेंककर भगाया व मोर को उनके चंगुल से मुक्त किया लेकिन मोर न चल न उड़ पा रहा था। पूर्व सरपंच अशोक जैन ने वनपाल को सूचना दी मौके पर रेंजर सोमेश्वर त्रिवेदी एवम वनपाल शंकर लाल मय टीम मौके पर पहुँचे। ग्रामीणों ने घायल मोर को सुपर्द किया। टीम घायल मोर को इलाज हेतु वल्लभनगर ले गए। इस दौरान पक्षी मित्र दर्शन मेनारिया, वनपाल शंकर लाल मेनारिया सहित ग्रामीण आदि मौजूद थे।