आरटीओ के सामने हो रही थी बसों में लोडिंग अनलोडिंग जानबूझकर नहीं दिया ध्यान

मेवाड़ किरण @ नीमच -

यात्री बसें सवारियों के बैठने के लिए है तय सीमा लगभग 25 किलो तक का लगेज यात्री के साथ ले जाए जा सकता है। इन सब नियमों से नीमच परिवहन अधिकारी बरखा गौड़ भलीभांति परिचित हैं लेकिन आज उनके सामने बसों में लोडिंग अनलोडिंग का काम चलता रहा और वह नजरें झुका कर क्रियाकलाप को नजरअंदाज करते हुए आगे बढ़ी और अपनी गाड़ी में बैठकर निकल गई । दरअसल स्थानीय रोडवेज बस स्टैंड से लगे हुए रोडवेज वर्कशॉप पर लंबे समय से प्राइवेट बस मालिकों का कब्जा था, जिस के संदर्भ में मीडिया ने प्रमुखता से समाचार उठाया मामले को गंभीरता से लेते हुए जिला कलेक्टर ने सख्त आदेश जारी किए और वहां तालाबंदी करवाई इसी को देखने के लिए परिवहन अधिकारी मौके पर पहुंची थी। इस वर्कशाप डिपो के बिल्कुल सामने रोड के उस पार प्राइवेट बसों में उपज सहित विभिन्न साधनों का लोडिंग अनलोडिंग काम लगातार चल रहा था। मैडम की नजर भी उधर गई लेकिन जानबूझकर नजरअंदाज किया और मौके से निकल गई। परिवहन अधिकारी अपने कार्य के प्रति कितनी जिम्मेदार हैं इस वीडियो से देखा जा सकता है ।

Source : Apna Neemuch