आचार संहिता के भंवर में कुछ फंसे, कुछ निकले, छोटी मछलियों का शिकार, बड़ी अभी बाकी…

उदयपुर . निर्वाचन विभाग की ओर से विधानसभा चुनाव की आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन और अन्य प्रकार की शिकायतों के लिए स्थापित केन्द्रों ने अब तक मिली शिकायतों में से अधिकतर का निस्तारण कर दिया है। एक-दो बड़ी शिकायतों की जांच अभी बाकी है। इस बार तीन केंद्रों पर आचार संहिता के उल्लंघन को लेकर शिकायतों को दर्ज किया गया है जिनका समाधान भी किया गया है। इनमें आचार संहिता प्रकोष्ठ, आईटी प्रकोष्ठ, चुनाव नियंत्रण कक्ष के साथ ही विभिन्न माध्यमों से शिकायतें प्राप्त हुई है। इन शिकायतों पर नियमानुसार कार्रवाई कर अधिकतर शिकायतों का निस्तारण कर दिया गया है, लेकिन कुछ शिकायतों पर अब भी कार्रवाई जारी है।

सी-विजिल में भी दिखाई रुचि
निर्वाचन आयोग के एप सी-विजिल को लेकर लोगों ने रुचि दिखाई। इस एप पर बुधवार शाम तक कुल 61 शिकायतें दर्ज हुई जिनमें से 11 फेक मिली। 50 शिकायतों का निराकरण कर दिया गया। इसी प्रकार नियंत्रण कक्ष पर प्राप्त शिकायतों में से एक पेंडिंग है।

 

READ MORE : पत्रिका स्टिंग : नियम छोड़ो, ब्रांड बोलो, पैसे ज्यादा लेगेंगे, पुलिस को भी देने है..

 

पट्टे बांटने वाला सचिव एपीओ
उदयपुर . जिले के मावली विधानसभा क्षेत्र की कैलाशपुरी ग्राम पंचायत के सचिव जसवंत पुंडीर को आचार संहिता लागू होने के बावजूद जमीनों के पट्टे जारी करने की शिकायत पर बीडीओ कैदार वैष्णव ने एपीओ कर दिया है। वैष्णव ने बताया कि उन्हें एपीओ कर पंचायत समिति मुख्यालय बडग़ांव लगाया गया है, उनके स्थान पर अरविन्द डाबी को सचिव लगाया है। पीईईओ महावीर जावरिया मामले की जांच कर रिपोर्ट देंगे। उल्लेखनीय है कि शिकायत में यह आरोप लगाया गया कि पुंडीर व सरपंच पट्टा देने के बाद एक दल को वोट देने के लिए बाध्य कर रहे थे। घटनाक्रम का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो चुका है। मामले में प्रधानमंत्री आवास के बदले पैसे मांगने के आरोप भी लगाए गए हैं।


पत्रक बांटे, थाने पहुंचा मामला
उदयपुर. मावली विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी धर्मनारायण जोशी को बाहरी व्यक्ति बताकर उनके पक्ष में मतदान नहीं करने और पुष्कर लाल डांगी के पक्ष में मतदान की अपील के पत्रक बंटने पर बवाल खड़ा हो गया। बुधवार देर रात शिकायत मिलने पर फतहनगर थाना पुलिस ने चार युवकों को हिरासत में लेकर पत्रक जब्त किए। इसके विरुद्ध भाजपा नेता व नगर पालिका उपाध्यक्ष राजेश चपलोत ने थाने में रिपोर्ट दी। थानाधिकारी गोपाल शर्मा का बताया कि शिकायत मिली है, जांच कर रहे हैं। मावली के रिटर्निंग अधिकारी को अवगत कराया है।