आखिर युवक की क्यों की थी हत्या….


हत्या का आरोपित गिरफ्तार
डाबड़ा में युवक की गोली मारकर हत्या का मामला
प्रतापगढ़.
रठांजना थाना क्षेत्र के अचलपुरिया गांव के पास १९ जुलाई रात को एक युवक की गोली मारकर हत्या करने के मामले में पुलिस ने एक आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। उसने रुपयों के लेन-देन को लेकर हत्या करना कबूला है। पिस्टल आदि के बारे में आरोपित से पूछताछ की जा रही है। पुलिस अधीक्षक शिवराज मीना ने बताया कि बसाड़ निवासी लोकेन्द्रसिंह (२१) पुत्र आजादसिंह को उसके दोस्त घायलावस्था में प्रतापगढ़ जिला चिकित्सालय लेकर आए थे। उदयपुर ले जाते रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। इस पर परिजनों को बुलाया गया। परिजनों की ओर से दर्ज कराई गई रिपोर्ट में इसका आरोप डाबड़ा निवासी हाजी मस्तान पुत्र आजम खां मुसलमान निवासी डाबडा थाना हथुनिया पर लगाया। इस पर थाना प्रभारी तेजकरण चारण ने टीम का गठन किया। जिसमें साइबर सैल के फैलीराम को शामिल किया गया। टीम ने २० जुलाई को मुखबीर की सूचना पर मस्तान खान को डिटेन किया गया। उससे गहन एवं तकनीकी तौर पर पूछताछ की गई। मसतान ने हत्या की वारदात करना कबूल किया। प्रारम्भिक पूछताछ पर उसने रुपए के लेन-देन के विवाद को लेकर हत्या करना बताया। मस्तान को न्यायालय के आदेश पर रिमांड पर लिया गया। हत्या में प्रयुक्त हथियार तथा प्रकरण में वारदात के विभिन्न पहलुओं के बारे में पूछताछ की जा रही है।
----
फोटो...
टेम्पो से दो क्विंटल मछली पकड़ी
एक आरोपित गिरफ्तार
प्रतापगढ़
पुलिस ने शनिवार को शहर में अवैध रूप से मछली परिवहन करते एक युवक को गिरफ्तार किया है। एएसआई भंवरलाल ने बताया कि बस स्टैंड पर वाहनों की चैकिंग की जा रही थी। इस दौरान एक लोडिंग टेम्पो को रोका गया। जिसमें दो क्विंटल १० किलो मछलियां ले जाई जा रही थी। आरोपित चालक शाहरुख पुत्र अय्यूब मुसलमान निवासी मालवा कॉलोनी प्रतापगढ़ को मत्स्य एक्ट में गिरफ्तार किया।
---
जीवनसिंह होंगे छोटीसादड़ी के पुलिस उपाधीक्षक
छोटीसादड़ी
राज्य सरकार ने पुलिस विभाग में फेरबदल किया है। इसमें बांसवाड़ा एसटी.एससी सेल में पुलिस उपाधीक्षक रहे जीवनसिंह चौगामड़ी को छोटीसादड़ी के पुलिस उपाधीक्षक पद पर स्थानांतरण किया है। यहां कार्यरत पुलिस उपाधीक्षक ऋषिकेश मीणा का तबादला कोटा ग्रामीण में हुआ है। राणावत ने दूरभाष पर बताया कि उनकी पहली प्राथमिकता छोटीसादड़ी क्षेत्र में अपराधों पर लगाम लगाने ओर अपराधियों में भय पैदा करने की रहेगी।