अवैध शराब की धरपकड़ के लिए गए सहायक आबकारी अधिकारी को दंपती ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, फाड़ डाले कपड़े

बांसवाड़ा. जिले के सज्जनगढ़ थाना इलाके के राठधनराज गांव में सोमवार को अवैध शराब बिक्री पर धरपकड़ के लिए पहुंचे आबकारी विभाग के सहायक आबकारी अधिकारी को दंपती ने दौड़ा दौड़ाकर पीटा और उनके कपड़े फाड़ दिए। इसी बीच, आरोपियों के साथी सक्रिय हुए और मौके से अवैध शराब उठा ले गए। मौके पर किसी तरह साथी कार्मिकों ने बीच बचाव किया। वारदात में सहायक आबकारी अधिकारी को चोटें आई हैं। इसे लेकर रिपोर्ट पर पुलिस ने राजकार्य मं बाधा पहुंचाने का केस दर्ज किया है।

थाना अधिकारी प्रवीणसिंह ने बताया कि अजमेर के केकडी निवासी आबकारी निरोधक दल बांसवाड़ा के सहायक आबकारी अधिकारी महावीरसिंह राठौड़ को मुखबीर के जरिए सूचना मिली कि राठधनराज गांव में सूर्या पुत्र पृथ्वीसिंह लबाना अवैध रूप से शराब बिक्री कर रहा है। इस पर दोपहर करीब डेढ़ बजे सिंह, कांस्टेबल सहीराम व चालक तेजाराम मौके पर पहुंचे। सहायक आबकारी अधिकारी कार्रवाई में जुटे ही थे कि सूर्या लबाना और उसकी पत्नी अनीता तेश में आ गए और उनसे उलझते हुए मारपीट करने लगे। इस पर सिंह ने रुख पलटा और गुमटी से भागने लगे तो आरोपियों ने पीछा कर मारपीट की और उनके कपड़े फाड़ दिए। उधर, इस घटनाक्रम के बीच आरोपियों ने तीन-चार साथी भी आ गए और भीड़ बढ़ी तो इसका फायदा उठाकर उन्होंने मौके से अवैध शराब उठा ली, जिसे विभाग का दल जब्त करने वाला था। बाद में जैसे-जैसे जान बचाकर सहायक आबकारी अधिकारी सज्जनगढ़ थाने पहुंचे। मारपीट में सिंह के शरीर पर कई जगह चोटें आई हैं।

पहले भी हुए हैं हमले

आबकारी विभाग के कार्मिकों पर हमले का जिले में यह पहला मामला नहीं हैं। इससे पहले भी अवैध शराब की धरकपड़ की कार्रवाई के दौरान कई बार हमले हो चुके हैं। गढ़ी थाना इलाके से लेकर पाटन, कलिंजरा सहित अन्य क्षेत्रों में बड़े स्तर अवैध शराब का कारोबार दादागिरी से चल रहा है।