अब रोमांचभरा होगा उदयपुर से अहमदाबाद का सफर, सोम नदी पर बना सबसे बड़ा पुल, जानें खासियत

- धीरेन्द्र जोशी

उदयपुर।

उदयपुर से अहमदाबाद तक ब्रॉडगेज रेल लाइन (Udaipur To Ahmedabad Broad Gauge) पर ट्रेन का सफर काफी रोमांचक होगा। अरावली की वादियों से गुजरती यह रेल लाइन कोंकण रेलवे की तरह ही नयनाभिराम नजारों को समेटे रहेगी। कहीं हरियाली के बीच बहती नदियों की कलकल लुभाएगी तो कहीं ऊंचे पुल से गुजरने का रोमांच महसूस होगा जो सफर को यादगार बना देंगे।

 

230 मीटर लम्बा पुल बनाया
इस रेल लाइन पर करीब एक हजार छोटे-बड़े पुल होंगे। इनमें से उदयपुर से हिम्मतनगर तक छोटे-बड़े करीब 690 पुल बनाए गए हैं जो पहाड़ों के बीच सर्पिलाकार मार्ग पर नदियों और सडक़ों पर बनाए गए हैं। उदयपुर से डूंगरपुर के बीच 22 बड़े पुल होंगे। इनमें से 15 पुलों का काम पूरा हो चुका है। सबसे बड़ा पुल सोम नदी पर बनाया गया है। यह पुल 12 स्पान पर बनाया गया है और प्रत्येक स्पान में करीब 19 मीटर की दूरी है। ऐसे में यह पुल 230 मीटर लंबा बनाया गया है। बारिश के दिनों में जब नदी बहेगी तो नजारा देखते ही बनेगा। उदयपुर शहर के करीब 20 किलोमीटर दूर खारवा के बाद घने जंगल और पहाडिय़ों के बीच से गुजरती टे्रन कई छोटे-बड़े पुल से होते हुए गुजरेगी जो रोमांच का अनुभव करवाएगी।

 

इतना हुआ काम
सूत्रों के अनुसार हिम्मतनगर तक करीब 690 छोटे-बड़े पुल में से 50 पुलों का काम अभी चल रहा है। अन्य सभी पुल बनकर तैयार हो गए हैं। 40 बड़े पुलों में से 33 पुलों का काम पूरा हो चुका है। हिम्मतनगर से अहमदाबाद तक करीब 300 छोटे-बड़े पुल बनाए गए हैं जिनमें से चार बड़े पुल हैं।

 

38 मी. ऊपर से गुजरेगी
केवड़े की नाल में ओड़ा में बांसवाड़ा मार्ग पर से गुजर रहा रेलवे पुल ऊंचाई का अनुभव करवाएगा। मीटर गेज का पुल 32 मीटर ऊंचा था, ब्रॉडगेज का नया पुल 38 मीटर ऊंचा बनाया गया है। करीब 125 फीट की ऊंचाई से गुजरती ट्रेन से नीचे सडक़ पर चलती गाडिय़ां रोमांच से भर देंगी।