अब दो राज्यों की संयुक्त रूप से होगी नाकाबंदी

मेवाड़ किरण@नीमच -

नीमच। शहर थानों की सीमा से लगे राजस्थान जिले के प्रतापगढ़ पुलिस के साथ जिला पुलिस ने बैठक कर लोकसभा चुनाव को लेकर अपराधियों की सूची बनाई है। जिनकी जल्द ही गिरफ्तारी होगी। बार्डर मिटिंग में खासकर प्रतापगढ जिले के छोटी सादड़ी की एसडीएम बिंदु राजावत, एसडीओपी विजयपाल सिंह, सीएमओ, थानाप्रभारी और तहसीलदार उपस्थित थे। वहीं नीमच जिले के सीएसपी राकेश मोहन शुक्ल, जीरन एसडीओपी सोनू रावल सहित तहसीलदार उपस्थित थे।
सीएसपी राकेश मोहन शुक्ल ने बताया कि शहर के बघना और जीरन थाना क्षेत्र से प्रतापगढ़ जिले की सीमा लगती है। लोकसभा चुनाव को लेकर पुलिस ने अपराध रोकथाम के लिए तीन स्थानों पर नाकाबंदी शुरू कर दी है। इस बार खासकर संयुक्त रूप से नाकाबंदी की गई। पहले राजस्थान और मध्यप्रदेश पुलिस की अलग-अलग तरह से नाकाबंदी होती थी। इस बार एक ही नाकाबंदी पर दोनों का आधा-आधा स्टाफ लगेगा।इस दौरान प्रत्येक वाहनों की चैकिंग की जाएगी। वहीं फरार वारंटियों की सूची बनाई गई, जिनकी राज्य सीमावर्ती होने के चलते गिरफ्तारी शुरू की जाएगी।वहीं मतदान को प्रभाििवत करने वाले चिन्हित बदमाशों की सूची भी तैयार की गई है। बार्डर के क्रिटिकल मतदान केंद्रों के बारे में चर्चा हुई है। खासकर आवरी माता मंदिर और जीरन तथा बघाना क्षेत्र में प्रतापगढ़ सीमा पर नाकाबंदी की गई है।