अपनी मांगों को लेकर जनपद के कंप्यूटर ऑपरेटरों ने सीईओ को सौंपा ज्ञापन

मेवाड़ किरण @ नीमच -

अपना मनासा @ भरत कनेरिया
अपनी विभिन्न मांगों को लेकर एक बार फिर कंप्यूटर ऑपरेटर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं। कंप्यूटर ऑपरेटरों के अचानक हड़ताल पर जाने के कारण पंचायतों के विभिन्न कार्य अटक गए हैं। जिसके चलते आम जनता का कार्य समय पर पूरा नहीं हो पा रहा हैं। बता दें कि मनासा जनपद के समस्त कंप्यूटर ऑपरेटर सरकार के आदेश के खिलाफ अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं। सरकार के अपर मुख्य सचिव गोरी सिंह द्वारा जारी कंप्यूटर ऑपरेटर को मजदूरी की श्रेणी में लाकर खड़ा करने को लेकर कंप्यूटर ऑपरेटर हडताल पर हैं। कंप्यूटर ऑपरेटरों ने ज्ञापन के माध्यम से बताया कि एसीएस ने पत्र में जिस कोर्ट के केस का हवाला दिया है वह नगरी निकाय से संबंधित है नगरी निकाय का अधिनियम एवं पंचायत राज अधिनियम दोनों में भिन्नता हैं। साथ हि नगरी निकाय के कोर्ट के केस का हवाला दिया गया है तो नगरी निकाय ने समय-समय पर समस्त अस्थाई वेतन कर्मचारियों को नियमित किया हैं। यही प्रक्रिया पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग में अपनाई जाए। एसीएस के आदेश के कारण समस्त कंप्यूटर ऑपरेटर में भई का वातावरण बन गया है, जो न्यायोचित नहीं हैं। आदेश के खिलाफ मध्यप्रदेश कंप्यूटर ऑपरेटर महासंघ के बैनर तले मनासा जनपद के समस्त कंप्यूटर ऑपरेटर भृत्य, फर्रारश ने जनपद सीईओ को ज्ञापन सोप मौन धारण कर अनिश्चितकालीन कलम बंद हड़ताल पर चले गए हैं। इस अवसर पर कंप्यूटर ऑपरेटर वरूण बैरागी, जगदीश कच्छावा, सूरज चौहान, रणजीत पंवार, जुगल वर्मा, दिलीप कच्छावा, ज्ञानचंद माली आदि उपस्थित थे।

Source : Apna Neemuch