अंग्रेजी बोलने में निपूर्ण हो रही हैं डूंगरपुर की महिलाएं

अंग्रेजी बोलने में निपूर्ण हो रही हैं डूंगरपुर की महिलाएं
नगरपरिषद में नि:शुल्क इंग्लिश स्पोकन क्लासेज
एक माह में फर्राटेदार अंग्रेजी बोलने लगी महिलाएं
डूंगरपुर. डूंगरपुर नगरपरिषद के सभापति के.के.गुप्ता ने शिक्षा के क्षेत्र में अद्भूत प्रयोग करते हुए शैक्षिक क्रांति का नवाचार किया और एक मुहिम चलाई। यह मुहिम सीधे तौर पर उन महिलाओं को लाभ पहुंचा रही है जो अपनी मातृ भाषा हिंदी के साथ अंग्रेजी भाषा को सामान्य जीवन में प्रयोग करना चाहती हैं। शहर की महिलाओं को समय की रफ्तार में साथ चलने के साथ सामान्य जीवन में बोलचाल के लिए अंग्रेजी बोलने के लिए नगरपरिषद में अंग्रेजी शिक्षण शुरू किया है। तकरीबन एक माह से चल रही इंग्लिश स्पोकन क्लास में प्रशिक्षण लेकर महिलाएं अब अंग्रेजी में सामान्य वार्तालाप करने लगी हैं।
तकनीकी युग में अंग्रेजी शिक्षण जरुरी
सभापति के.के.गुप्ता ने इंग्लिश स्पोकन क्लास को लेकर कहा कि आज के इस तकनीकी युग में ज्ञान के साथ-साथ अपने विचारों को प्रकट करने का तरीका भी बहुत प्रभावशाली होना चाहिए। कम्युनिकेशन स्किल बहुत ही बेहतरीन होनी चाहिए विशेषकर अंग्रेजी भाषा पर पकड़ मजबूत होना जरुरी है। नगरपरिषद ने महिलाओं और गृहणियों को अंग्रेजी भाषा को बोलचाल में प्रयोग लाने के लिए अंग्रेजी स्पोकन क्लास शुरू की है। एक माह से अधिक समय से चल रही कोचिंग से 100 से अधिक महिलाएं फर्राटेदार अंग्रेजी बोल रही हैं।
सोचा नहीं था कि अंग्रेजी भी बोल सकेंगे
30 मई से शुरू इंग्लिश स्पोकन क्लास में 100 से अधिक गृहिणी महिलाएं प्रतिदिन अपने घर का कार्य छोडक़र इंग्लिश स्पोकन सीखने आ रही हैं। वे कहती हैं कि सोचा नहीं था कि इतनी अच्छी अंग्रेजी बोल सकेंगी। इंग्लिश स्पोकन सिखाने वाली अध्यापिका प्रियंका गांधी कहती हैं कि महिलाएं बच्चों की तरह इंग्लिश सीख रही हैं, उनमें ललक है।

बच्चों को पढ़ाने में मिलेगी मदद
महिलाओं ने कहा कि वर्तमान में बच्चे अंंग्रेजी माध्यम स्कूलों में पढ़ रहे हैं। उनका होमवर्क कराने में काफी समस्या आती थी। अंग्रेजी शिक्षण से अब बच्चों को घर पर पढ़ाने कराने में कोई परेशानी नहीं होती है।